PM नरेंद्र मोदी ने खुद पर बनी फिल्म देखने के बाद दी थी मंजूरी: रिपोर्ट

0
45

पीएम मोदी के राजनीतिक करियर पर बनी फिल्म ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ की रिलीज पर चुनाव आयोग ने रोक लगाई है. पहले विवेक ओबेरॉय स्टारर मूवी को 11 अप्रैल को रिलीज किया जाना था. चुनाव आयोग ने चाहे फिल्म की रिलीज को हरी झंडी ना दी हो, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी की टीम फिल्म को मंजूरी दे दे चुकी है. इसका खुलासा डायरेक्टर ओमंग कुमार ने किया है.

हफ पोस्ट इंडिया को दिए इंटरव्यू में फिल्म के निर्देशक ओमंग कुमार ने कंफर्म किया कि मेकर्स ने फिल्म के लिए पीएम मोदी से मंजूरी मांगी थी. ओमंग ने दावा किया कि वे फिल्म की शूटिंग के दौरान व्यक्तिगत रूप से पीएम से नहीं मिले थे. बाद में पीएम और उनकी टीम को फिल्म दिखाई गई थी. बकौल ओमंग कुमार, ”हां, फिल्म देखने के बाद हमें पीएम की तरफ से मंजूरी मिली. टीम ने उनसे मुलाकात की और सब कुछ सुलझा लिया गया.”

ओमंग कुमार ने ये भी बताया कि पीएम मोदी की टीम और उनके साथियों ने भी फिल्म देखी है.

उधर, फिल्म ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ के प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने भी फिल्म की आलोचना करने को लेकर राजनीतिक पार्टियों पर भी हमला किया, मूवी पर वोटर्स को प्रभावित करने के आरोपों को लेकर सिंह ने कहा- ”पीएम नरेंद्र मोदी वोटर्स को बीजेपी और पीएम मोदी के फेवर में नहीं करती. अगर ये मामला है तो क्यों सारी पार्टियां कैंपेन करना बंद नहीं करती और वोर्टस को लुभाने के लिए फिल्में ही क्यों नहीं बनाती?”

‘पीएम नरेंद्र मोदी’ की रिलीज पर शुरुआत से ही संकट था. लेकिन दिल्ली हाईकोर्ट, बॉम्बे हाईकोर्ट, सुप्रीम कोर्ट, सेंसर बोर्ड से हरी झंडी मिलने के बाद फिल्म चुनाव आयोग की तरफ से अड़ंगा लग गया. पीएम मोदी की बायोपिक में विवेक ओबेरॉय लीड रोल में हैं. विवेक ओबेरॉय का भी कहना है कि फिल्म प्रेरणास्पद है, जो कि पीएम मोदी के देशप्रेम और संघर्ष को बताती है.

LEAVE A REPLY