Khatron ke khiladi 9 : Bharti Singh ने कहा इस साल हमें बेबी भी करना है

0
69

कमीडियन  Bharti Singh और उनके राइटर पति हर्ष लिंबाचिया  इन दिनों स्टंट रिऐलिटी शो ‘khatron ke khiladi 9 ‘ में नजर आ रहे हैं।

पति कागज पर हास्य रचता है, तो पत्नी अपने हसोड़ अंदाज से उसे लोगों तक पहुंचाकर खिलखिलाने पर मजबूर कर देती है। लोगों को खुशियां 

बांटने वाली यह लाजवाब जोड़ी है, कमीडियन Bharti Singh और उनके राइटर पति हर्ष लिंबाचिया की। इन दिनों रिऐलिटी शो ‘ khatron ke khiladi 9’ में नजर आ रहे हर्ष और भारती का हंसी-मजाक, प्यार-मनुहार बातचीत के दौरान भी जारी रहता है। कभी हर्ष प्यार भरे अंदाज में कहते हैं, ‘मुझे लिखना और तुम्हारा साथ सबसे ज्यादा पसंद है भारती’, तो कभी भारती तुनकते हुए कहती हैं, ‘ये इतना बिजी हो गया है कि एक बजे घर आता है, ऐसे में हम बेबी कैसे करेंगे?’ 

बिग स्क्रीन नहीं, अब बेबी करना है
भारती टीवी शोज के अलावा ‘खिलाड़ी 786’, ‘सनम रे’ जैसी फिल्में भी कर चुकी हैं, जिसमें उनकी ऐक्टिंग को काफी तारीफ भी मिली। ऐसे में क्या वह बड़े पर्दे पर भी कुछ नया करना चाहेंगी? इस पर भारती का कहना है, ‘मेरा ऐसा कोई प्लान नहीं है। मैं टीवी में बहुत खुश हूं। टीवी के जरिए आप जल्दी लोगों तक पहुंचते हैं। मुझे होस्टिंग और दूसरे कई ऑफर्स आते हैं, पर अब अपनी मैरिड लाइफ को देखते हुए काम करना चाहती हूं। पति को भी टाइम देना चाहिए। पति को तो टाइम दे ही नहीं पाती हूं।’ कुछ वक्त पहले हर्ष और भारती ने अपना प्रॉडक्शन हाउस भी शुरू किया है, उसमें क्या नया चल रहा है? इस पर भारती बताती हैं, ‘डिजिटल मीडियम के लिए बहुत सारी चीजें चल रही हैं। कुछ बड़े लेवल के प्रॉजेक्ट भी हैं। हर्ष ने एक बहुत बड़ी फिल्म भी लिखी है। मैं पहले हमेशा हर्ष को बोलती थी कि बिजी रहे, बिजी रहे, अभी इतना बिजी हो गया है कि रात को 1 बजे घर आता है। फिर, इस साल हमें बेबी भी करना है, अब यह एक बजे घर आएगा, तो हम बेबी कैसे करेंगे?’ इस पर हर्ष कहते हैं, ‘तुम स्ट्रेस मत लो, वह एक ही दिन की बात है, एक दिन मैं जल्दी आ जाऊंगा।’ 


सांप-छिपकली देख मुंह से निकला ‘उई मां’ 
एक राइटर, एक कमीडियन, तो खतरों के खिलाड़ी करने की क्या सूझी? इस सवाल पर भारती बताती हैं, ‘कलर्स मेरे लिए घर का चैनल जैसा है। उनके साथ मैंने कई शोज किए हैं, तो उन्होंने पर्सनली बोला कि कर लो यार, तुम लोग ऐसे कपल हो, जिसकी शादी बहुत चर्चा में रही है। इसीलिए, हम मान गए। लेकिन शो इतना आसान नहीं था। यह तो हमारे साथ बहुत अच्छे लोग थे, तो हमने काफी इंजॉय किया, वरना डेढ़ महीना अर्जेंटीना में रहना मजाक है? कोई छुट्टियों में भी वहां घूमने न जाए।’ वहीं, हर्ष कहते हैं, ‘एक तो वह इतना दूर है। पैतीस-चालीस घंटे की फ्लाइट, ऐसा लग रहा था कि पृथ्वी के भी बाहर है।’ शो के दौरान अपने किसी डर पर जीत हासिल की? यह पूछने पर दोनों कहते हैं, ‘कोई डर ओवरकम नहीं होता। जो ऐसा बोलते हैं, उनको फिर से कहो कि लो, सांप पकड़ो। वे नहीं पकड़ पाएंगे। इमैजिन करो कि आपके शरीर पर सौ सांप हैं, कैसा लगेगा? ये सांप, बड़ी-बड़ी छिपकलियां, जो शरीर पर चल रही थीं, उनके साथ स्टंट बहुत डरावना था। बार-बार मुंह से बस ‘उई मां’ निकल रहा था।’ 


इसलिए नहीं किया ‘बिग बॉस 12’ 
हर्ष और भारती बिग बॉस 12 का हिस्सा भी बनने वाले थे, लेकिन शो शुरू हुआ तो दोनों नदारद रहे। इसकी वजह पूछने पर भारती बताती हैं, ‘हम दोनों को एक साथ डेंगू हो गया था। फिर, मेरा लिगामेंट ब्रेक हो गया था (पैर के निशान दिखाती हैं), तो ऑपरेशन कराना पड़ा। ऐसे में, ‘बिग बॉस’ में जाती, तो भागादौड़ी नहीं हो पाती। फिर, आप अंदर कुछ नहीं करते, तो दुश्मन बन जाते हैं। इसलिए नहीं किया।’ 

भारती के लिए किए टीवी शो 
भारती के पति हर्ष लिंबाचिया कई सालों से कैमरे के पीछे क्रिएटिव राइटिंग करते रहे हैं। अब, दो टीवी शोज करने के बाद वे कैमरे के आगे कितने कम्फर्टेबल हैं? इस सवाल पर हर्ष कहते हैं, ‘मेरे लिए अब भी बहुत अजीब सा हो जाता है। मैं बहुत सालों से कैमरे के पीछे रहा हूं, तो कैमरे के आगे काम करना मेरे लिए बहुत मुश्किल होता है। इसीलिए, जब भी मुझे शोज या ऐक्टिंग आदि के ऑफर मिलते हैं, तो मैं इनकार कर देता हूं। मेरा अपना पैशन है, अपना काम है। मुझे ऐक्टिंग नहीं करनी है। वह तो भारती कन्विंस करती है, तो हो जाता हूं, लेकिन मुझे ये शोज करने में इतना मजा नहीं आता।’ भारती की ओर देखते हुए, ‘मैं राइटिंग ज्यादा इंजॉय करता हूं भारती, मैं तुम्हारे साथ रहना ज्यादा इंजॉय करता हूं भारती।’ इस पर भारती खुश होते हुए कहती हैं, ‘वाकई हर्ष मेरी हर बात मान लेते हैं और मुझे बहुत अच्छा लगता है। एक बीवी हमेशा चाहती है कि उससे पहले उसके पति की वाहवाही हो। इसीलिए, मैं हर्ष को एनकरेज करती रहती हूं कि प्लीज, आप ये करो, वह करो और हर्ष मानते भी हैं। हर्ष बहुत अच्छे पति हैं। यह एक ही थे, जो मैंने ले लिया।’ 

LEAVE A REPLY