#MeToo: हिरानी मामले पर विंता नंदा ने दिया बयान

0
7
vinta nanda-rajkumar-hirani-metoo-movement

मीटू अभियान के तहत बॉलिवुड में पिछले साल कई महिलाओं ने अपनी आप बीती शेयर की थी। सबसे ताजा खुलासा ‘संजू’, ‘पीके’ जैसी हिट फिल्में दे चुके निर्माता-निर्देशक राजकुमार हिरानी को लेकर हुआ है। एक न्यूज वेबसाइट के मुताबिक, हिरानी पर ‘संजू’ फिल्म में उनकी असिस्टेंट डायरेक्टर रही महिला ने सेक्शुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाया है। हिरानी पर लगे आरोप से इंडस्ट्री के लोग सकते में हैं। लेखिका विंता नंदा ने सबसे पहले इस पर अपना रिऐक्शन दिया है। 

विंता ने ट्विटर पर लिखा है कि, ‘मीटू का यह ताजा मामला काफी परेशान करने वाला है।’ भला किस पर यकीन करेंगी महिलाएं? अब यह शब्द बर्दाश्त नहीं होते जब कहा जाता है कि हमारे क्लाइंट पर झूठे आरोप लगाए गए हैं और उनकी छवि खराब करने के लिए ऐसा किया जा रहा है, वगैरह-वगैरह…।’ गौरतलब है कि विंता खुद इस कैंपेन के तहत अपनी आप-बीती बता चुकी हैं। विंता एक लेखिका हैं। उन्होंने ऐक्टर आलोकनाथ पर खुद के यौन शोषण का आरोप लगाया था। विंता नंदा ने एक फेसबुक पोस्ट के जरिए आलोक नाथ पर रेप का आरोप लगाया था।

क्या है मामला?
राजकुमार हिरानी पर फिल्म ‘संजू’ के पोस्ट प्रॉडक्शन के दौरान उनकी असिस्टेंट रही महिला ने एक से अधिक बार यौन शोषण करने का आरोप लगाया गया है। एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में पीड़िता ने कहा कि, ‘6 महीने तक मैंने यह सब सहन किया। विरोध करने पर हिरानी ने मुझे फिल्म से निकालने की धमकी तक दे डाली थी।’ पीड़िता के अनुसार उन्होंने इसकी शिकायत ‘संजू’ के को-प्रॅड्यूसर विधु विनोद चोपड़ा से मेल के जरिए की थी। 

वहीं, राजकुमार हिरानी के वकील ने अपने क्लाइंट की तरफ से इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है। उनका कहना है वह महिला द्वारा लगाए गए इन आरोपों को खारिज करते हैं और हर तरह की जांच के लिए तैयार हैं। हिरानी का कहना है कि यह सारे आरोप उनकी छवि को खराब करने के लिए लगाए गए हैं। 

 

LEAVE A REPLY