जया ने एक रात में लिखी पूरी स्क्रिप्ट और अमिताभ की जिंदगी से दूर हो गईं रेखा

0
80

बॉलीवुड में अपनी संजीदा अदाकारी से एक अलग मुकाम हासिल करने वालीं सीनियर एक्ट्रेस जया बच्चन आज अपना 71वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रही हैं. जया बच्चन ने भारतीय सिनेमा में जैसा काम किया है वो सराहनीय है. जया बच्चन के इस खास दिन को और भी खूबसूरत बनाने के लिए बेटे अभिषेक बच्चन और बेटी श्वेता बच्चन ने मां के नाम इमोशनल पोस्ट लिखा है. 

अभिषेक बच्चन ने मां जया बच्चन की फोटो शेयर करते हुए लिखा कि मां ये शब्द सबकुछ कह देता है. हैप्पी बर्थ डे मां. लव यू. 

माँ! The word says it all. Happy Birthday Ma. Love you.

A post shared by Abhishek Bachchan (@bachchan) on

बता दें कि जया बच्चन अपने दोनों बच्चों के काफी करीब हैं. मध्यप्रदेश के जबलपुर में 9 अप्रैल 1948 को जया का जन्म हुआ था. जया की फिल्म ‘गुड्डी’ आज भी उनकी बेहतरीन फिल्मों से एक मानी जाती है. जया और अमिताभ ने पहली बार 1972 की फिल्म ‘बंसी बिरजू’ में काम किया था और उसके जंजीर, अभिमान, चुपके चुपके, मिली, शोले और कभी खुशी कभी गम जैसी कई काफी फिल्में साथ कीं. जया बच्चन समाजवादी पार्टी से राज्य सभा सांसद भी हैं.


आज हम आपको एक ऐसी लव स्टोरी का किस्सा बताने जा रहे हैं जिसको लेकर आज भी अगर चर्चा हो जाए तो भारी मजमा लग जाता है। यह कहानी है ‘अमिताभ, जया और रेखा की’

वो दौर 1977 का था जब रेखा मांग में सिंदूर भरकर और मां बनने की खबरें मीडिया में देकर अमिताभ से रिश्ता जगजाहिर करने में लगी थीं। दूसरी तरफ जया शांति से अपने परिवार को बिखरने से बचाने का प्रयास कर रही थीं।
एक दिन जब अमिताभ किसी शूटिंग के सिलसिले में मुंबई से बाहर थे। उस दिन जया ने रेखा को फोन किया। जया का फोन उठाते हुए रेखा सोच रही थीं कि जया भला-बुरा सुनाएंगी। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। जया ने फोन करके रेखा को अपने घर डिनर पर बुलाया। रेखा सोच रही थी कि जया अपने घर बुलाकर उन्हें बेइज्जत करेंगी और रोना-पीटना मचेगा।
रात के वक्त रेखा सज-धजकर जया के घर पहुंची। रेखा के मुकाबले जया बिलकुल सादे कपड़ों में थीं। उन्होंने रेखा का स्वागत किया और ढेर सारी बातचीत की। लेकिन इस बातचीत में अमिताभ का जिक्र बिलकुल नहीं था। जया ने रेखा को अपने घर का इंटीरियर दिखाया, गार्डन दिखाया और काफी सत्कार किया। डिनर के बाद जब रेखा घर लौटने लगीं तो उन्हें विदा करते हुए जया ने एक खास बात कही जिसे सुनकर रेखा के पैरों तले जमीन खिसक गई।
जया ने दरवाजे पर रेखा से कहा ‘चाहे कुछ भी हो जाए, मैं अमित को नहीं छोड़ूंगी’। अगले दिन मीडिया में जया के डिनर और रेखा पर खूब किस्से चले लेकिन न तो जया ने कुछ कहा और न ही रेखा ने मुंह खोला। इस डिनर के बाद एकाएक अमिताभ की जिंदगी काफी बदल गई।
उन्होंने रेखा से दूरी बना ली क्योंकि उन्हें पता चल चुका था कि जया उनके और रेखा के बारे में जान गई हैं लेकिन परिवार की खातिर वो मुंह नहीं खोलेंगी। जानकार कहते हैं कि अगर जया वो डिनर न करती तो शायद आज रेखा उनकी जिंदगी में दूसरी औरत बनने में सफल हो गई होतीं।

LEAVE A REPLY