ICC : इंटरनेशनल क्रिकेट में बॉलिंग करने से अंबति रायडू को किया सस्पेंड

0
20
icc-ambawati-raidu-suspend-for-international-cricket-bowling

भारतीय क्रिकेटर अंबति रायडू को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने इंटरनेशनल क्रिकेट में गेंदबाजी से सस्पेंड कर दिया है. दरअसल, ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सिडनी वनडे में पार्ट टाइम बॉलिंग करने वाले अंबति रायडू के गेंदबाजी एक्शन की आधिकारिक शिकायत की गई थी. रायडू ने सिडनी वनडे मैच के दौरान दो ओवर गेंदबाजी की थी और बिना किसी सफलता उन्होंने 13 रन दिए थे.

एक तरफ जहां रायडू न्यूजीलैंड दौरे पर वनडे सीरीज में अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर उन्हें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) से बड़ा झटका मिला है. ICC ने सोमवार को ट्वीट करते हुए यह जानकारी दी है. आईसीसी ने अपने एक बयान में कहा, ‘आईसीसी द्वारा दिए गए 14 दिनों के समय में रायडू अपनी गेंदबाजी की रिपोर्ट को पेश करने में असफल रहे और इसी कारण उन्हें परिषद ने अपनी नियमावली के खंड 4.2 के तहत तुरंत प्रभाव के साथ निलंबित कर दिया.’

आईसीसी ने कहा, ‘रायडू पर यह निलंबन तब तक बना रहेगा, जब तक उनकी गेंदबाजी का परीक्षण नहीं होता और साथ ही यह साबित नहीं होता कि वह दोबारा वैध गेंदबाजी के लिए सक्षम हैं.’ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी से निलंबन के साथ आईसीसी ने रायडू को थोड़ी राहत भी दी है. उन्हें घरेलू क्रिकेट में गेंदबाजी को जारी रखने की अनुमति दी है. भारतीय टीम के 33 वर्षीय खिलाड़ी रायडू भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के विनियमों के अनुच्छेद 11.5 के अनुसार घरेलू क्रिकेट में गेंदबाजी बरकरार रख सकते हैं.

रायडू टीम इंडिया के लिए मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी करते हैं, लेकिन जरूरत पड़ने पर वह टीम के लिए पार्ट टाइम ऑफ स्पिन गेंदबाजी भी करते थे. अंबति रायडू ने 46 वनडे इंटरनेशनल मैचों में 3 विकेट हासिल किए हैं. इसके अलावा वह 97 फर्स्ट क्लास मैचों में 10 विकेट और 151 लिस्ट A मैचों में 13 विकेट झटक चुके हैं.

आईसीसी के नियमों के मुताबिक गेंद फेंकने के दौरान अगर किसी गेंदबाज का हाथ 15 डिग्री से ज्यादा मुड़ता है तो वह एक्शन अवैध माना जाता है. ऐसे में उस गेंदबाज पर गेंदबाजी करने पर प्रतिबंध भी लग सकता है. रायडू ने अपना बायो मैकेनिक एनालिसिस टेस्ट नहीं कराया जिसके बाद आईसीसी ने उन्हें यह बड़ा झटका दिया है.


LEAVE A REPLY