IND vs NZ: चोटिल महेंद्र सिंह धोनी पर सस्पेंस बरकरार , शुभमान गिल को मिल सकता है मौका

0
25
suspense-on-dhoni-get-chance-shubnam-gill

न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में 3-0 से अजेय बढ़त ले चुकी टीम इंडिया अब हेमिल्टन में जीत का चौका लगाने के लिए उतरेगी. 10 साल बाद न्यूजीलैंड के खिलाफ उसकी धरती पर सीरीज जीतने वाले भारतीय टीम मौजूदा पांच मैचों की सीरीज में कीवियों का सूफड़ा साफ करने की और बढ़ रही है.

नियमित कप्तान विराट कोहली की गैरमौजूदगी में दौरे के बाकी मैचों के लिए टीम इंडिया की कमान रोहित शर्मा को पास है, जो कप्तानी का शानदार अनुभव रखते हैं. सीरीज का चौथा मुकाबला गुरुवार को खेला जाएगा, लेकिन इस मैच में विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी खेल पाएंगे या नहीं, इस पर सस्पेंस बरकरार है. हालांकि उन्होंने बुधवार को हेमिल्टन के सेडॉन पार्क में नेट पर बल्लेबाजी की और अपनी फिटनेस को परखा.

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान धोनी मांसपेशियों में खिंचाव के कारण न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरा वनडे नहीं खेल सके थे. सोमवार को माउंट माउंगानुई वनडे में उनकी जगह दिनेश कार्तिक ने विकेटकीपर की भूमिका निभाई थी. अगर चौथे वनडे में भी वह नहीं खेले, तो कप्तान रोहित को उनकी कमी खल सकती है. विकेट के पीछे उनकी मौजूदगी टीम के लिए बेहद फायदेमंद साबित होती रही है.

शानदार फिटनेस के लिए जाने जाने वाले इस धोनी के लिए वनडे करियर में सिर्फ तीसरा मौका था, जब वह चोटिल होने के कारण टीम का हिस्सा नहीं बन सके. धोनी इससे पहले 2013 में त्रिकोणीय सीरीज में वेस्टइंडीज के खिलाफ चोटिल होने के कारण सीमित ओवरों का मैच नहीं खेल सके थे.

पिछले 14 वर्षों में यह सिर्फ छठा मौका रहा, जब वह उन्हें चोट के कारण बाहर बैठना पड़ा. मांसपेशियों में खिचाव के कारण धोनी 2013 में तीन मैचों में नहीं खेल सके थे. इससे पहले 2007 में वह बुखार के कारण आयरलैंड और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैदान पर नहीं उतर सके थे. 37 साल के इस खिलाड़ी ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में हुई वनडे सीरीज में तीन अर्धशतकीय पारियां खेली थीं. उन्होंने 51, नाबाद 55 और नाबाद 87 रन बनाए थे, जिससे वह ‘मैन ऑफ द सीरीज’ भी रहे.

न्यूजीलैंड में भी उन्होंने अपनी लय जारी रखी. धोनी ने दूसरे वनडे में 33 गेंदों में नाबाद 48 रनों की पारी खेलकर टीम के स्कोर को चार विकेट पर 324 रनों तक पहुंचाने में अहम योगदान दिया था. रोहित शर्मा की कप्तानी की बात करें, तो उन्होंने 2017-2018 के दौरान 8 वनडे मैचों में भारत का नेतृत्व किया और 7 मुकाबले जीते. जबकि 12 टी-20 इंटरनेशनल में से 11 में रोहित ने कप्तान के तौर पर भारत को जीत दिलाई है.

शुभमान को मिलेगा मौका ?

माना जा रहा है कि सीरीज के अगले दो मैचों के लिए टीम में कुछ बदलाव किए जा सकते हैं. उम्मीद की जा रही है कि सीरीज जीत चुकी टीम इंडिया बेंच स्ट्रेंथ को आजमा सकती है. दिग्गज सुनील गावस्कर चाहते हैं कि 19 साल के शुभमान गिल को न्यूजीलैंड में मौका दिया जाए.

उन्होंने इंडिया टुडे से कहा, ‘चूंकि नंबर 3 का स्थान खाली है, मैं शुभमान गिल को खेलते देखना चाहता हूं, उसे खिलाएं और देखें कि वह मौके का कितना फायदा उठा पाता है. यदि वह बल्लेबाजी करता है, तो आपको पता चल जाएगा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को वह किस रूप में लेता है.

शुभमान अंडर 19 विश्व कप जीतने वाले भारतीय टीम का हिस्सा थे. उन्होंने पिछले साल आईसीसी की इस प्रतियोगिता में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 418 रन बनाए और टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुने गए.

दूसरी तरफ, ब्रेक पर जाने से पूर्व विराट कोहली युवा शुभमान गिल की जमकर तारीफ कर चुके हैं. विराट ने माना कि युवा शुभमान को नेट्स पर बल्लेबाजी करते देख उन्होंने महसूस किया कि जब वह 19 साल के थे, तो इस बल्लेबाज के मुकाबले 10 प्रतिशत प्रतिभा भी उनमें नहीं थी.

LEAVE A REPLY