पीओके में गिरे एफ-16 के पायलट को भीड़ ने भारतीय समझा, पीट-पीटकर मार डाला

0
94

जम्मू-कश्मीर में हमला करने के बाद पीओके में गिरे पाकिस्तानी विमान एफ-16 के पायलट को भीड़ ने भारतीय समझा और पीट-पीटकर मार दिया। यह दावा लंदन में रह रहे वकील खालिद उमर ने अपनी फेसबुक पोस्ट में किया है। यह पोस्ट सोशल मीडिया में वायरल हो रही है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में भी उमर के दावे को शामिल किया गया। इसके मुताबिक, एफ-16 को पाक वायुसेना की 19वीं स्क्वाड्रन का पायलट शहजाजुद्दीन उड़ा रहा था।
न्यूज एजेंसी के मुताबिक, उमर ने पोस्ट में लिखा- ”दुखद है कि पाक के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में इजेक्ट करने के बाद पाकिस्तानी पायलट जिंदा था। लेकिन भीड़ ने उसे भारतीय समझकर पीटा। जब उन्हें पता चला कि यह हमारा ही आदमी है तो शहजाज को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया। वह रिटायर्ड एयर मार्शल का बेटा था। दो एयर मार्शल के बेटों (अभिनंदन और शहजाज) ने आसमान में लड़ाई लड़ी। दोनों जमीन पर गिरे, लेकिन एक जिंदा नहीं बचा।”

कश्मीर में घुसे थे पाक के 10 लड़ाकू विमान

26 फरवरी को जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक के अगले दिन पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों ने कश्मीर के राजौरी और पुंछ में घुसपैठ कर भारत के सैन्य अड्डों पर हमले की कोशिश की थी। इस दौरान कुछ बम भी बरसाए, लेकिन ये निशाने पर नहीं गिरे थे। बाद में भारत के मिग-21 विमानों ने उन्हें खदेड़ा। इस लड़ाई में एफ-16 विमान पीओके में गिरा था। मिग-21 के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान भी इजेक्ट कर पीओके में पहुंच गए थे।

पाक ने कहा था- 2 भारतीय पायलट कब्जे में

पाक सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कहा था कि हमने भारतीय विमान को मार गिराया और उनके दो पायलटों को पकड़ लिया है। उन्होंने ट्वीट में बताया था कि एक पायलट (अभिनंदन) सेना के कब्जे में है और दूसरा अस्पताल में भर्ती है। प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी पायलटों (बहुवचन) शब्द का जिक्र किया था। हालांकि, बाद में पाकिस्तान ने स्पष्ट किया था कि उनके कब्जे में भारत का एक ही पायलट है। अभिनंदन शुक्रवार रात वाघा बॉर्डर के रास्ते भारत लौटे।

एफ-16 के गिरने की बात से पाक का इनकार
इसी दिन विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने प्रेस ब्रीफिंग में एक मिग-21 विमान खोने और एक पायलट के लापता होने की पुष्टि की थी। इसके बाद भारतीय पायलट का भद्दा वीडियो जारी कर अंतरराष्ट्रीय नियम तोड़ने पर पाक के उप-उच्चायुक्त को फटकार भी लगाई थी। 27 फरवरी के घटनाक्रम के बाद पाक अपने एफ-16 के गिरने की बात से इनकार करता रहा। हालांकि, 28 फरवरी को इसके मलबे की फोटो सामने आने पर पाक का झूठ उजागर हो गया।

LEAVE A REPLY