WhatsApp का CEO बनने की रेस में रहे नीरज अरोड़ा ने छोड़ी कंपनी

0
70

इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप के दोनों फाउंडर्स कंपनी पहले ही छोड़ चुके हैं ये तो आपको पता ही होगा. लेकिन कंपनी के पुराने कर्मचारी में से एक और चीफ बिजनेस ऑफिसर नीरज अरोड़ा ने भी वॉट्सऐप छोड़ने का ऐलान किया है. फेसबुक के अधिग्रहण के बाद धीरे धीरे कंपनी के पुराने आला अधिकारियों ने कंपनी छोड़ दी है.

इस साल के शुरुआत में जब वॉट्सऐप के सीईओ की खोज चल रही थी तो नीरज अरोड़ा को इस पद के लिए प्रबल दावेदार भी माना जा रहा था. हालांकि इन्हें सीईओ न बना कर क्रिस डेनियल्स को इस पद की जिम्मेदारी दी गई.

नीरज अरोड़ा ने फेसबुक पोस्ट में कहा है कि वो फैमिली के साथ समय बिताना चाहते हैं. उन्होंने कहा है, ‘समय बीतता है, लेकिन मेमोरीज नहीं. सात साल हो गए जब जेन और ब्रिएन ने मुझे वॉट्सऐप में रखा और यह सफर बेहतरीन था’

जेन और ब्रिएन ने मिल कर वॉट्सऐप की शुरुआत की थी और 2014 में इन्होंने अपनी कंपनी को फेसबुक से 19 बिलियन डॉलर में बेच दिया. पहले तो दोनों वॉट्सऐप के लिए काम करते रहे लेकिन एक एक करके दोनों ने ही वॉट्सऐप छोड़ दिया. दोनों ही फाउंडर्स के कंपनी छोड़ने की वजह फेसबुक और मार्क जकरबर्ग से अनबन बताई जाती है. क्योंकि जेन और ब्रिऐन प्राइवेसी को लेकर काफी गंभीर थे और वो इस प्लेटफॉर्म पर विज्ञापन नहीं चाहते थे.

कुल मिला कर बात अब ये है कि फेसबुक ने अब पूरी तरह से वॉट्सऐप को अपनी जद में ले लिया है और अपनी तरह से चलाने की तैयारी है. शुरू में ऐसा नहीं था और जकरबर्ग ने इंश्योर किया था कि वॉट्सऐप इंडिपेंटेड तौर पर काम करेगा. लेकिन स्थिति बदल गई और जगजाहिर है.

LEAVE A REPLY