Ganga Vilas Cruise : दुनिया की सबसे बड़ी क्रूज सेवा, जानिए Booking, Ticket Price, Route Map, Journey Duration, Features

Newsvishesh
By Newsvishesh 44 Views
Ganga Vilas Cruise Route (Image Credits: ANI)

Ganga Vilas Cruise : 13 जनवरी से देश में पहली बार कई राज्यों को जोड़ने वाले रिवर क्रूज (River Cruise) शुरू हो गए हैं। गंगाघाट(Gangaghat), वाराणसी (Varansi) से निकलकर यह क्रूज दुनिया में सबसे खास में से एक है क्योंकि इस क्रूज पर यात्री 51 दिन, 27 नदियों और 3200 किलोमीटर की यात्रा करेंगे। जो दुनिया की सबसे लंबी रिवर क्रूज (River Cruise) यात्रा होगी।

ऐसा पहली बार हुआ है कि देश के कई राज्यों को जोड़ने वाला सबसे बड़ा रिवर क्रूज (River Cruise) शुरू हुआ है। पीएम मोदी ने शुक्रवार सुबह 10:30 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए गंगा विलास क्रूज (Ganga Vilas Cruise) को हरी झंडी दिखाई और इसके साथ गंगा विलास क्रूज (Ganga Vilas Cruise) 51 दिनों की यात्रा के लिए काशी के रविदास घाट से धूमधाम से रवाना हुआ.

Ganga Vilas Cruise Ship
Ganga Vilas Cruise Ship (Image Credits : ANI)

Ganga Vilas Cruise Owner

राज सिंह गंगा विलास क्रूज (Ganga Vilas Cruise) के ओनर हे जो Antara Luxury River Cruises के founder and CEO हे.

Ganga Vilas Cruise Route

गंगा विलास की यह यात्रा एक मार्च को असम के डिब्रूगढ़ में समाप्त होगी. इस एक यात्रा के दौरान क्रूज 3200 किलोमीटर की दूरी तय करेगा और यह सब 3200 किलोमीटर में है। जो भव्यता और दिव्यता का परिचय देगी। 51 दिन के इस क्रूज में किसी को ऐसा लगेगा जैसे वह किसी महल में है। जहां तक ​​इस क्रूज यात्रा की बात है, गंगा विलास क्रूज (Ganga Vilas Cruise) 27 नदी प्रणालियों से होकर गुजरेगा। राष्ट्रीय जलमार्ग 1 और 2 होकर गुजरेंगे। इन नदियों में गंगा (Ganga), भागीरथी (Bhagirathi River), हुगली (Hugli), मेघना (Meghna River), यमुना (Yamuna River), पद्मा (Padma River) और ब्रह्मपुत्र (Brahmaputra River) शामिल हैं।

Ganga Vilas Cruise Photos
Ganga Vilas Cruise Photos (Image Credits: ANI)

Ganga Vilas Cruise Route Map

इस दौरान क्रूज 5 राज्यों के साथ बांग्लादेश से भी गुजरेगा। वाराणसी (Varanasi), बक्सर (Baksar), पटना (Patna), कोलकाता (Kolkata), ढाका (Dhaka), गुवाहाटी (Guwahati) और डिब्रूगढ़ (Dibrugarh) समेत 50 जगहों का दौरा करेंगे। गंगा विला क्रूज जो 5 राज्यों और बांग्लादेश से होकर गुजरेगा, उसमें उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, असम शामिल हैं।

Read More : दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की एक रिपोर्ट, नए साल में भी यमुना नदी का प्रदूषण कम नहीं हुआ

यह क्रूज यात्रियों को भारत और बांग्लादेश की कला, संस्कृति, इतिहास और आध्यात्मिकता का अनुभव करने की अनुमति देगा। काशी से डिब्रूगढ़ तक करीब 50 पर्यटन स्थलों पर क्रूज रुकेगा। जिसके दौरान यात्री नदी के माध्यम से विभिन्न राज्यों की संस्कृति और विरासत को देख सकेंगे।

काशी की दिव्य गंगा आरती (Ganga Aarti )में भाग ले सकते हैं। तो बोध गया(Bodhgaya)भी महाबोधि मंदिर (Mahabodhi Temple) जा सकते हैं। सुंदरबन (Sundarvan)की खूबसूरती का लुत्फ उठाने के साथ-साथ आप असम के काजीगंगा पार्क (Kaziranga Park) की सफारी का मजा भी ले सकते हैं।

Ganga Vilas Cruise Specialty

अब इस क्रूज की खासियतकी बात करें तो गंगा विलास क्रूज(Ganga Vilas Cruise)की क्षमता 80 यात्रियों की है। इस क्रूज में कुल 18 सुइट हैं। इसमें कई आलीशान सुविधाएं हैं। इस क्रूज के इंटीरियर को शाही अंदाज में डिजाइन किया गया है। क्रूज में एक सुंदर रेस्टोरेंट, स्पा और सनडेक भी है। रेस्तरां में कॉन्टिनेंटल और भारतीय भोजन के साथ कई बुफे काउंटर भी हैं। ओपन स्पेस बालकनी, जिम, स्टडी रूम, लाइब्रेरी भी इस क्रूज में हैं। साथ ही क्रूज में मेडिकल सुविधा भी उपलब्ध है। मनोरंजन के लिए संगीत और सांस्कृतिक कार्यक्रमों की भी सुविधाएं हैं।

Ganga Vilas Cruise Ship

गंगा विलास क्रूज (Ganga Vilas Cruise) की लंबाई 62.5 मीटर और चौड़ाई 13 मीटर है। इस क्रूज में 40 हजार लीटर का फ्यूल टैंक है। तो 60 हजार लीटर की पानी की टंकी भी है। अपस्ट्रीम में क्रूज स्पीड 10 से 12 किमी प्रति घंटा है। जबकि डाउनस्ट्रीम में क्रूज की स्पीड 15 से 20 किलोमीटर प्रति घंटा है।

साथ ही काशी में गंगा तट(Ganga Tat)पर 30 हेक्टेयर क्षेत्र में 265 टेंट लगाकर पर्यटकों के लिए लग्जरी टेंटसिटी (Tent City) बनाई गई है। पर्यटक फाइव स्टार होटल जैसी लग्जरी सुविधाओं का लुत्फ उठा सकेंगे।

इसके अलावा, उगते सूरज और गंगा आरती (Ganga Aarti), खेल और घुड़सवारी के दृश्य का आनंद ले सकते हैं। खास बात यह है कि 15 जनवरी से यहां पर्यटक आने लगेंगे। टेंटसिटी का यह टूरिज्म प्रोजेक्ट 5 साल के लिए है। हर साल बाढ़ के दौरान कुछ महीनों के लिए टेंटसिटी (Tent City)को हटा दिया जाएगा और गंगा (Ganga)नदी का जल स्तर सामान्य होते ही टेंट सिटी को फिर से बसाया जाएगा।

योग, स्पा, पुस्तकालय और आर्ट गैलरी सुविधाओं के अलावा, टेंट सिटी में ऊंट और घुड़सवारी भी होगी।यहां 32 फीट ऊंचा गंगा टॉवर(Ganga Tower)बनाया जाएगा, जहां से पर्यटक घाटों के शानदार दृश्य का आनंद ले सकेंगे। गंगा (Ganga)में पर्यटकों के सुरक्षित स्नान के लिए यहां फ्लोटिंग बाथ जेटी का भी निर्माण किया गया है।

संक्षेप में गंगा आरती(Ganga Aarti)के कारण अब तक जाना जाने वाला गंगाघाट (Gangaghat) अब धार्मिक स्थल ही नहीं. बल्कि एक पर्यटन स्थल भी बन गया है। देश-विदेश से आने वाले लोगों के लिए इस यात्रा को यादगार बनाने के लिए तमाम सुविधाएं जुटाई गई हैं।

Ganga Vilas Cruise Booking

अंतरा लक्ज़री रिवर क्रूज़ की ऑफिसियल वेबसाइट से आप गंगा विलास क्रूज की टिकट बुक कर सकते हे. लेकिन अभी के समय में बुकिंग संभव नहीं हे क्योकि इस यात्रा की सभी बुकिंग स्विट्जरलैंड की एक कंपनी ने कार ली है। इसके बाद की यानी अगली यात्रा सितंबर में होने की संभावना है जिसकी बुकिंग थोड़े समय में शुरू हो जाएगी।

Ganga Vilas Cruise Ticket Price Per Person | Ganga Vilas Cruise Price Per Person

साथ ही सरकार का राजस्व भी बढ़ना तय है। क्योंकि 51 दिन के क्रूज का किराया प्रति व्यक्ति 19 लाख रुपये है। साथ ही सुइट का किराया 38 लाख रुपए है। टेंट सिटी का किराया 7500 रुपए से 20 हजार रुपए तय किया गया है। जिससे एक बात तो साफ है कि इस आलीशान क्रूज और टेंट सिटी का लुत्फ सिर्फ अमीर ही उठा सकते हैं। मध्यम वर्ग के लिए यह सुविधा सिर्फ वीडियो तक ही सीमित रहेगी।

Share This Article
Leave a comment